Difference Between 1G, 2G, 3G, 4G, 5G Technology in Hindi

What is the Difference Between 1G, 2G, 3G, 4G, 5G : Hello Friends, Is post me hum aapko Difference Between 1G, 2G, 3G, 4G, 5G Technology in Hindi ke bare me batane wale hai jisme hum aapko 1G, 2G, 3G, 4G, 5G me G ka matlv kya hai, In sabhi 1G, 2G, 3G, 4G, 5G ki launch date or baki information details se batane wale hai to dosto chaliye suru karte hai what is 1g 2g 3g 4g 5g.

1G, 2G, 3G, 4G, 5G me “G” ka Matlv Kya Hai ( G – Full Form ) 

G : Generation ( पीढ़ी )

Difference Between 1G, 2G, 3G, 4G, 5G Technology in Hindi  : वायरलेस संचार की पीढ़ियाँ

Difference Between 1G, 2G, 3G, 4G, 5G Technology in Hindi

वायरलेस संचार एक एनहेन्स्ड (Enhanced) इलेक्ट्रिकल कण्डक्टर अथवा वायर्स को उपयोग किए बिना विभिन्न दूरियों के मध्य सूचनाओं को प्रेषित करने वाली प्रणाली है।

1G प्रथम पीढ़ी

एनालॉग सैलुलर नेटवर्क मानक 1G वायरलैस टेलीफोन तकनीक की पहली पीढ़ी है। ये वे दूरसंचार मानक हैं, जिन्हें पहली बार वर्ष 1980 में विकसित किया गया और 1G नेटवर्क में प्रयुक्त रेडियो संकेत प्रायः एनालॉग होते हैं। 1G प्रणाली की गति 28 K मॉडेम (28 kbps) तथा 56 K मॉडेम (56 kbps) के बीच विचलित होती है। यह टेक्नोलॉजी अपने Voice Quality और Security System के अच्छे नहीं होने के कारण ज्यादा सफल नहीं हो पाई।

2G द्वितीय पीढ़ी

2G टेक्नोलॉजी को वर्ष 1991 में विकसित किया गया। डिजिटल नेटवर्क 1G नेटवर्क के रेडियो सिग्नल एनालॉग होते हैं, जबकि 2G नेवर्क के रेडियो सिग्नल डिजिटल होते हैं। ये दोनों ही प्रणालियाँ रेडियो टावरों को बाकी टेलीफोन प्रणाली से जोड़ने के लिए डिजिटल संकेतकों का उपयोग करती हैं। इसकी प्रमुख विशेषताएँ यह हैं कि इसमें फोन पर की जाने वाली बातचीत डिजिटली एनक्रिप्टेड होती है।

इसकी Speed 64KBPS है 2G टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल SMS, Photo Click और Email भेजने में किया जाता है।

3G तृतीय पीढ़ी

3G टेक्नोलॉजी को वर्ष 2000 में विकसित किया गया। हाई स्पीड आई पी डेट नेटवर्क 3G ने प्रौद्योगिकी के रूप में अगली पीढ़ी का प्रारम्भ किया। दोनों तकनीकों 3G व 2G में मख्य अन्तर यह था कि डेटा स्थानान्तरण के लिए सर्किट स्विचिंग के स्थान पर पैकेट स्विचिंग का प्रयोग किया जाने लगा।

3G टेक्नोलॉजी के आने के बाद Video Calling, Online Video Streaming में काफी सुधार आया है और इंटरनेट से Big Files Download करने के लिए भी 3G टेक्नोलॉजी का उपयोग होता है। 3G टेक्नोलॉजी के फ़ोन को ही हम Smart Phone कहते है।

4G चतुर्थ पीढ़ी

4G टेक्नोलॉजी को वर्ष 2012 में विकसित किया गया। मोबाइल ब्रॉडबैंड में वृद्धि यह 3G मोबाइल कम्यूनिकेशन मानकों की अगली कड़ी है। इण्टरनेशनल मोबाइल टेलीकम्यूनिकेशन एडवांस्ड (IMT-Advanced) पेसिफिकेशन के अनुसार, 4G सेवाओं के लिए, उच्च गतिशील संचार के लिए 100 MBPS तथा कम गतिशील संचार के लिए 1 GBPS की गति आवश्यक है।

5G पांचवी पीढ़ी

वायरलेस सिस्टम्स कुछ शोध पत्रों एवं परियोजनाओं में वायरलैस सिस्टम के नाम का इस्तेमाल मोबाइल दूरसंचार मानकों के अगले मुख्य चरण को इंगित करने के लिए किया गया, जो 4G/IMT एडवांस स्टैण्डर्स के बाद का चरण है। वर्तमान में, 5G का इस्तेमाल किसी विशेष विशेषीकरण अथवा किसी कार्यालय दस्तावेज अथवा मानकीकरण निर्धारित करने वाले संस्थानों; जैसे 3GPP, WiMAX Forum अथवा ITU द्वारा विधिक रूप से नहीं किया गया है।

इस वर्ष 2019 के अंत तक हम 5G टेक्नोलॉजी का उपयोग करने लगेंगे बहुत सी मोबाइल कंपनी 5G Supported Phones पर काम करने लगे है।

Yeh Bhi Pade,,,,,

To dosto kesi lagi aapko yeh post “Difference Between 1G, 2G, 3G, 4G, 5G Technology in Hindi” hame comments kar ke jaroor bataye or is post ko apne dosto ke sath share karna na bhule.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Helptak.com © 2019 Contact Us Frontier Theme